खटीमा, PAHAAD NEWS TEAM

चंपावत जिले में धोखाधड़ी का ऐसा मामला सामने आया है, जिससे अधिकारियों में हड़कंप मच गया. जहां एक शातिर व्यक्ति खुद को डीएम विनीत कुमार बताकर व्हाट्सअप पर लोगों से पैसे मांग रहा था. वहीं, डीएम विनीत कुमार ने मामले में प्राथमिकी दर्ज करायी है.

दरअसल, एक अज्ञात व्यक्ति चम्पावत के जिलाधिकारी विनीत कुमार तोमर के नाम से मोबाइल नंबर 9713406469 से अधिकारियों व अन्य को मैसेज कर रहा था. इतना ही नहीं शातिर खुद को डीएम भी बता रहा था और परिवार के बीमार होने की बात कहकर रुपए मांग रहा था । डीएम के संदेश को समझते हुए अधिकारी भी जाल में फंस गए, लेकिन जब अधिकारियों को अपने स्तर पर पता चला तो मामला पूरी तरह फर्जी निकला.

वहीं जिले के कई अधिकारियों को भी इस तरह के संदेश मिलने की सूचना मिली है. जिलाधिकारी विनीत कुमार ने जिले के सभी अधिकारियों और निवासियों के लिए एक संदेश जारी किया है. जिसमें उन्होंने ऐसे किसी भी कॉल या मैसेज के झांसे में न आने की अपील की है। साथ ही कहा कि अगर उन्हें कोई मैसेज या कॉल करना है तो वह उनके ऑफिशियल नंबर से ही किया जाएगा.

वहीं मामले में डीएम ने चंपावत कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज करायी है. पुलिस ने जिलाधिकारी के नाम से फोन करने वाले को जल्द गिरफ्तार करने की बात कही है. चंपावत के एसपी देवेंद्र पींचा ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है. धोखाधड़ी करने वाले व्यक्ति की पहचान करते ही उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।