देहरादून : देश में मंकीपॉक्स के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने अलर्ट जारी किया है. इसके तहत मंकीपॉक्स प्रभावित देशों से आने वाले लोगों की विशेष निगरानी करने और संदिग्ध मरीजों के लिए अलग वार्ड आरक्षित करने के निर्देश दिए गए हैं. मंकीपॉक्स को लेकर प्रभारी सचिव एवं एमडी एनएचएम डॉ आर राजेश कुमार द्वारा एसओपी जारी किया गया है।

एसओपी के तहत सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों और अस्पतालों के अधीक्षकों को हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है. इससे पहले केंद्र सरकार की ओर से भी इस संबंध में एसओपी जारी की जा चुकी है। इसके तहत अब राज्य ने एसओपी भी जारी करते हुए कहा है कि अगर राज्य में इस बीमारी का एक भी मरीज मिलता है तो इसे बीमारी का प्रकोप माना जाएगा.

एसओपी में अस्पतालों को अलर्ट रहने, मरीज को आइसोलेशन में रखने और मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने पर सैंपलिंग कराने, संदिग्धों के लिए अलग वार्ड और अस्पतालों में तैनात पर्याप्त स्टाफ के लिए आइसोलेशन सुनिश्चित करने को कहा गया है.

राज्य में अब तक मंकीपॉक्स का कोई मामला सामने नहीं आया है। हरिद्वार में एक संदिग्ध मरीज मिला लेकिन उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। बावजूद इसके बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सभी अस्पतालों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए हैं। ताकि इस बीमारी को फैलने से रोका जा सके।
डॉ. आर. राजेश कुमार, प्रभारी सचिव