हरिद्वार : योग गुरु बाबा रामदेव ने पतंजलि योगपीठ हरिद्वार में चल रहे जड़ी-बूटी कार्यक्रम में एक बार फिर विवादित बयान दिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का हवाला देते हुए एक बार फिर बाबा रामदेव ने चिकित्सा विज्ञान पर निशाना साधा है. बाबा रामदेव ने कोरोना वैक्सीन को चिकित्सा विज्ञान की विफलता बताया है।

बाबा रामदेव ने कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी कोरोना का डबल वैक्सीन डोज भी लगा ली और बूस्टर डोज लगाने के बाद भी वह कोरोना हो गया। उन्होंने अमेरिका पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘हम दुनिया के बादशाह हैं जो ऐसा कहते हैं। सर्व शक्तिशाली हैं । हमसे बड़ा कोई नहीं है। यह मेडिकल साइंस की नाकामी को दर्शाता है। स्वामी रामदेव ने कहा कि दुनिया फिर से जड़ी-बूटी की ओर लौटेगी।

पतंजलि में अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के तीसरे दिन बाबा रामदेव ने यह बात कही है. रामदेव ने कहा कि करोड़ों लोगों ने अपने घर के बगीचे में तुलसी, एलोवेरा और गिलोय को जगह दी है, जो उन्हें स्वास्थ्य और समृद्धि प्रदान कर रहा है। दुनिया जड़ी-बूटियों की ओर लौटेगी। यदि आप गिलोय पर शोध कर औषधियां बनाते हैं तो भारत विश्व की एक बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है।