मसूरी , पहाड़ न्यूज टीम

राज्य के शिक्षा मंत्री व नगर पालिका अध्यक्ष को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने प्राचार्य के माध्यम से आठ सूत्री मांगों को लेकर ज्ञापन भेजा है.

ज्ञापन में मांग की गई है कि कॉलेज का राजकीयकरण किया जाए, कॉलेज की खाली जमीन पर से अतिक्रमण हटाया जाए, एम.कॉम को नियमित विषय में शामिल किया जाए, छात्राओं के लिए कॉमन रूम की व्यवस्था की जाए, छात्रसंघ कोष से महाविद्यालय का रंग रोगन किया जाय, पुस्तकालय में उपयोगी पुस्तकों की व्यवस्था की जाए, महाविद्यालय में शौचालयों की मरम्मत एवं सफाई की जाए तथा महाविद्यालय के दो सौ मीटर क्षेत्र में धूम्रपान घोषित किया जाए। ज्ञापन में यह भी चेतावनी दी गई है कि अगर इन आठ सूत्रीय मांगों पर संज्ञान नहीं लिया गया तो एबीवीपी हिंसक आंदोलन के लिए बाध्य होगी. ज्ञापन देने वालों में प्रियांशु कंडारी, प्रीतम, अक्षित कंडारी, कैलाश बिष्ट, सोकिा रावत, मंजू, रिया, प्रिया, श्वेता, निशा, तन्नू व सिमरन शामिल थे।