पौड़ी : पर्यटन नगरी कहे जाने वाले पौड़ी शहर में सड़कों के किनारे हुए अतिक्रमण को लेकर जिम्मेदार विभागों ने कड़ा रुख अख्तियार किया है. गठित संयुक्त टीम द्वारा शहर में 222 स्थानों पर अतिक्रमण की मार्किंग की गई है, जिन्हें नोटिस के माध्यम से स्वयं ऐसे अतिक्रमण हटाने को कहा गया है. इसके बावजूद यदि अतिक्रमण नहीं हटाया गया तो संबंधित विभाग खुद ही अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाएगा. फिलहाल इस कार्रवाई से अतिक्रमणकारियों में हड़कंप मच गया है।

पौड़ी शहर में सड़कों के किनारे अतिक्रमण कई बार वाहनों के जाम का कारण बनता जा रहा है. इससे न सिर्फ वाहन चालकों को बल्कि राहगीरों को भी परेशानी होती है। कई बार अतिक्रमण के कारण अधिकारियों के वाहन भी सड़कों पर जाम में फंसते देखे गए हैं. हाल ही में नगर पालिका, एनएच व लोनिवि की संयुक्त टीम ने शहर के विभिन्न स्थानों पर अतिक्रमण को चिह्नित किया.

बताया गया कि संयुक्त टीम को 222 स्थानों पर अतिक्रमण मिला. अब ऐसे अतिक्रमणों को हटाने के लिए नोटिस देने की प्रक्रिया जारी है. नगर पालिका के कार्यपालक अधिकारी प्रदीप बिष्ट ने बताया कि शहर में एनएच पर 101 जगहों पर अतिक्रमण मिला है. जबकि लोनिवि की सड़कों पर 70 और नगर पालिका की सड़कों के किनारे 51 जगहों पर अतिक्रमण पाया गया.

उन्होंने कहा कि सड़कों के किनारे अतिक्रमण के कारण कई बार वाहनों के आवागमन में परेशानी होती है. कहा कि संयुक्त टीम द्वारा निरीक्षण के बाद 222 स्थानों को चिन्हित किया गया. उन्होंने कहा कि सड़क किनारे अतिक्रमण करने वाले अतिक्रमणकारियों को नोटिस भेजा गया है.