श्रीनगर , PAHAAD NEWS TEAM

देवप्रयाग विधायक विनोद कंडारी ने अकरी व बारजुला पट्टी के गांवों का दौरा किया. इस दौरान कणोली पहुंचने पर लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया। विधायक ने अपने दौरे के दौरान लोगों की समस्याएं सुनीं और अधिकारियों को उनका समाधान करने के निर्देश दिए.

शासकीय प्राथमिक विद्यालय कणोली परिसर में आयोजित कार्यक्रम में विधायक विनोद कंडारी ने वर्तमान में मेलों के प्रति लोगों के रवैये पर जोर दिया. मेलों को सांस्कृतिक परंपराओं का ध्वजवाहक भी कहा जाता है। उन्होंने कहा कि मेले का संबंध क्षेत्र की पहचान से होता है। उनका संरक्षण और प्रचार जरूरी है। कंडारी ने मेलों को संस्कृति का ध्वजवाहक बताते हुए आने वाली पीढ़ी से उत्तराखंडी लोक संस्कृति की परंपरा को जीवित रखने का आह्वान किया।

इस मौके पर कणोली के प्राइमरी स्कूल, जूनियर हाई स्कूल और हाई स्कूल के छात्र-छात्राओं ने शानदार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दीं. इस मौके पर विधायक कंडारी ने हाईस्कूल के टॉपर छात्र-छात्राओं को भारत दर्शन दौरे पर ले जाने की बात कही. भुवनेश्वरी देवी मंदिर समिति के अध्यक्ष दौलत राम बडोनी की मांग पर उन्होंने मंदिर के जीणोद्वार और शिक्षकों की नियुक्ति का आश्वासन दिया.