देहरादून , PAHAAD NEWS TEAM

विधान सभा कार्यालय में राज्य के वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने भारत सरकार के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक से मुलाकात की. इस बैठक में वित्तीय और वित्तीय अनुशासन और प्रबंधन के बारे में विस्तार से बताया गया।

इस बैठक में टीम के प्रमुख डिप्टी सीएजी संध्या शुक्ला ने वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल को ऑडिट के प्रयासों की जानकारी दी. चर्चा के दौरान पता चला कि उत्तराखंड का आईएफएमएस सिस्टम अन्य राज्यों के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। इसके परिणामस्वरूप डीबीटी प्रणाली प्रभावी ढंग से संचालित होती है।

वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखंड में आय के स्रोत सीमित हैं। इसलिए वित्तीय प्रबंधन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा और मितव्ययिता के उपायों को लागू किया जाएगा। राज्य की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए आपसी तालमेल पर जोर दिया जाएगा।

इस संबंध में नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक से संबंधित सुझावों को भी लागू किया जाएगा। बैठक में सचिव वित्त सुरेन्द्र पाण्डेय, निदेशक लेखा अहमद इकबाल, प्रिंसिपल एकाउंट जनरल उत्तराखण्ड प्रवीन्द्र यादव सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे.विधान सभा कार्यालय में राज्य के वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने भारत सरकार के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक से मुलाकात की.