टिहरी : कांग्रेसियों ने केंद्र और राज्य सरकार पर सरकारी एजेंसियों के दुरूपयोग का आरोप लगाते हुए जिला मुख्यालय के हनुमान चौक पर केंद्र और राज्य सरकार का पुतला फूंका। इस मौके पर केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सीबीआई और ईडी के दुरुपयोग के साथ-साथ उत्तराखंड में यूकेएसएसएससी की नौकरियां बेचने का आरोप लगाया.

जिला मुख्यालय टिहरी में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा के निर्देश पर कांग्रेस पार्टी ने राज्य के अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से वीपीडीओ एवं अन्य पदों के लिए हुई भर्ती परीक्षा में 15-15 लाख रूपये लेकर पेपर बेचने के खुलासे, राज्य के खनन विभाग में हो रहे अवैध खनन तथा घोटाले, सहकारिता विभाग तथा शिक्षा विभाग में हो रहे भर्ती घोटालों के विरोध में विधायक विक्रम सिंह नेगी के नेतृत्व में उत्तराखण्ड की भाजपा सरकार एवं मुख्यमंत्री का पुतला दहन और धरना प्रदर्शन किया गया।

बुधवार को कांग्रेसियों ने जिला मुख्यालय पर राज्य और केंद्र सरकार के खिलाफ धरना दिया. चौराहे पर करीब एक घंटे तक धरना देने के बाद केंद्र और राज्य सरकार का पुतला दहन किया गया. इस मौके पर कांग्रेसियों ने कहा कि केंद्र सरकार ने ईडी का दुरूपयोग कर अखिल भारतीय कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के खिलाफ बेवजह परेशान करने का काम किया है.

प्रताप नगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक विक्रम सिंह नेगी ने कहा कि केंद्र सरकार ईडी और सीबीआई का दुरुपयोग कर रही है. जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राकेश राणा ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है. अधीनस्थ चयन आयोग वीपीडीओ के कागजातों को सरकार की नाक के नीचे बेचने का मामला बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष शांति प्रसाद भट्ट ,सूरज राणा ,सोबन सिंह नेगी, विक्रम सिंह पवार, विजय गुनसोला, नरेंद्र चंद रमोला ,ज्योति प्रसाद भट्ट, मुरारीलाल खंडवाल, साहब सिंह सजवान, दर्शनी रावत ,अनिता रावत, मुशरफ अली, मान सिंह रौतेला, मुर्तजा बेग, भगवान सिंह राणा ,कपिल जोशी, लखबीर सिंह चौहान, दिनेश कृषाली, अनिल राणा, खुशीलाल, सत्येंद्र सिंह पवार, संजय रावत, पुरुषोत्तम सिंह थलवाल, राय सिंह रावत ,किशोर मंद्रवाल, रोशनलाल नौटियाल, दरमियान सिंह राणा, श्याम लाल ,दिनेश पंवार आदि कांग्रेसी मौजूद थे।

मसूरी के माल रोड और अन्य बाजार के लोगो को प्रशासन ने दी चेतावनी , कहाँ सिर्फ 2 फीट 6 इंच तक का छज्जा — छत दुकान के बाहर मान्य होगा ।